Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

समाजसेवी मोहित खटाना ने MAX Hospital का sting बनाया जिससे घबराकर Max Hospital ने मृत मरीज के पार्थिक शरीर को छोड़ा| 

इसमें कमाल की बात यह रही की sting के बारे में बताने के बाद ही Max Hospital ने ऐसा कीया| वरना उन्होंने पुलिस बुला रख्खी थी और गलत बिल मृत के परिजनों से वसूल रहे थे|

 

समाजसेवी मोहित खटाना की facebook post नीचे है:  

3/8/2016??

??मानवता को जिंदा रखने हेतु Share जरूर करे

Max Hospital की ताजा खबर ?दोस्तो जितेन्द्र खटाना सुपुत्र देशराज उम्र 19 वर्ष गांव अभयपुर को MG रोड पर एक्सिडेंट होने के कारण गुडगांव के Max Hospital DLF Ph 4 मे 1/8/2016 सुबह लगभग 10 बजे भर्ती कराया गया था । सिर मे गंभीर चोट लगी ओर Max हॉस्पिटल पहुचाया गया परन्तु Max हॉस्पिटल के मेनेजमेंट व डॉक्टरो को रहम नही आया ओर परिजनो को बोला गया पहले पैसे जमा करे तब अॉपरेशन होगा । आनन फानन मे मरीज के भाई हॉस्पिटल से लगभग 30 कि० मी० दूर अपने गांव अभयपुर गए ओर आस पडोस से 2 लाख रू एकत्रित किए । पेसे जमा कराने के बाद भी मुख्य डा० सहाब समय पर नही पहुचे ओर जितेन्द्र की हालत नाजुक होती चली गई । लगभग 6 घंटे बीत जाने के बाद सांयकाल लगभग 4:10 पर जितेन्द्र का ऑपरेशन किया गया परन्तु तब तक बहुत देर हो चुकी थी । ओर जितेन्द्र ब्रेन डैड घोसित कर दिया गया । ओर बिल बना दिया गया 4 लाख 9 हजार 448 रू । आज सुबह युवाओ के मेरे पास कॉल आने शुरु हो गए । जाकर देखा तो भारी पुलिस हॉस्पिटल मे तेनात हो चुका थी । मेनेजमेंट व डॉक्टरो के द्वारा भोले भाले ग्रामिणो से बकाया लगभग 2 लाख रू बिल मांगा जा रहा था । डॉक्टरो की भाषा थी हम किसी भी कीमत पर डिस्काऊंट नही करेंगे । मेने डॉक्टरो की टीम से सिर्फ दो प्रशन पूछे ।

1- हमारे मरीज की भर्ती किस समय की गई थी ?

2- ऑपरेशन किस समय किया गया था ?

उनका जवाब था तब तक पेसे जमा नही होते व बिलिंग डिपार्टमेंट से हमे कंन्फर्म नही होता तब तक हम कुछ भी नही कर सकते ।

मेरा काम पूरा हो चुका था स्टिंग बन चुका था ओर पूरे स्टाफ को बता भी दिया स्टिंग हो चुका है तुम पेसे को पहले तवज्जो देते हो ईंसानियत को नही अभी JP Nadda, Anil Vij जी को Email के द्वारा स्टिंग भेज रहा हुँ ओर Social Media के संसार मे जनता जनार्दन को भी सच्चाई दिखाऊंगा । दोस्तो पूरे स्टाफ की रूह कांप चुकी थी हम सभी से मेनेजमेंट व डॉक्टरो के द्वारा थोडा समय मांगा गया ओर उनकी 30 मिनट की मीटिंग होने के बाद उनहोने निर्णय लिया हम बकाया 2 लाख रू माफ कर रहे है । आप अपने मरीज को ले जा सकते हो । वहा पर गुडगांव नगर परिषद वार्ड नम्बर 2 के पार्षद धर्मेन्द्र खटाना जी ओर गुडगांव नगर निगम वार्ड नम्बर 32 के पूर्व पार्षद महेश दायमा जी भी पहले से उपस्थित थे । दोनो नेताओ का पहुचने पर आभार । बाद मे परिजन व सभी ग्रामिण जितेन्द्र भाई को गुडगांव सिविल हॉस्पिटल लेकर आए । जितना हमसे हो सका वो किया । 2 घंटे बाद जितेन्द्र भाई की मृत्यु हो गई । भगवान उनकी आत्मा को शांति दे 

जय हिन्द

नोट : पुराना 4 लाख का बिल व डिस्काऊंट के बाद का बिल भी पोस्ट के साथ संलग्न है ।

पीडित व जागरुक लोग हमारी टीम मे जुडे ओर मानवता को बचाने मे हमारा साथ दे ।

9811920052

This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.

 

 

Note: Gurgaon News has produced this news as replication of a Facebook post of social activist Mohit Khatana. Neither Gurgaon News has in pocession, nor has seen any sting mentioned. We are in touch with Mohit Khatana regarding the stings.

Max Hospital reaction awaited: We have made Max Hospital aware of the story and they are yet to get back. As they are taking too much time - we are proceeding with the story and will include their take on the story as they reply.

 

  1. Popular
  2. Trending
  3. Comments